उमा भारती बोलीं -सिंधिया ने शिवराज की सरकार बनाकर भाजपा पर एहसान किया

करैरा। जब कमल नाथ मुख्यमंत्री थे तो मिस्टर इंडिया थे। जैसे इस फिल्म में हीरो का किरदार दिखाई नहीं देता था, वैसे ही कमल नाथ भी मुख्यमंत्री बनने के बाद कुर्सी पर तो बैठे, लेकिन दिखाई नहीं देते थे। सिंधिया ने भाजपा की सरकार बनाकर एहसान किया है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कही। वे शिवपुरी के करैरा में राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ चुनावी सभा कर रही थीं।

उमा भारती ने भाषण के अधिकांश हिस्से में ज्योतिरादित्य और राजमाता विजयाराजे सिंधिया का ही जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में ज्योतिरादित्य का चेहरा देख मतदाता दीवाने हो गए थे। उनके चेहरे पर सरलता और शालीनता के साथ राजमाता का नाम है तो भाजपा के नौजवान भी दीवाने हो गए थे। मुझे तो लग रहा था कि अगला चुनाव आते-आते हमारा तो सूपड़ा ही साफ हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि जैसे यशोदा के हृदय में गोपालकृष्ण बसे हैं, वैसे ही मेरे हृदय में ज्योतिरादित्य सिंधिया बसे हैं। माधवरावजी के निधन के बाद जब ज्योतिरादित्य के पहले उपचुनाव में मैं सभा में आई तो भाजपा प्रत्याशी ने कुछ ऐसी बात कह दी जो मुझे पसंद नहीं आई। मैंने तब भी कहा था कि जुग-जुग जीने का आशीर्वाद तो मैं ज्योतिरादित्य को ही दूंगी।

सभा में उमा भारती ने खुद मंच से स्वीकार किया कि कोरोना के नियमों का पालन नहीं हो रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि कोरोना से बचने के लिए दो गज की दूरी और मास्क जरूरी है। आप लोगों ने तो यहां कोरोना की धज्जियां उड़ा दीं। यहां न तो चार फीट की दूरी दिख रही है और न ही मास्क जरूरी दिख रहा है।

सिंधिया ने कमल नाथ और दिग्विजय सिंह को छोटा भाई-बड़ा भाई बताते हुए कहा कि एक भाई (दिग्विजय सिंह) को उमा भारती ने बाहर का रास्ता दिखाया। अब हम एक ही परिवार हैं और बुआ के बाद भतीजा भी तो कुछ करेगा इसलिए दूसरे भाई (कमल नाथ) को मैंने बाहर का रास्ता दिखाया

Leave a Reply