इंदौर: मॉल में 9 साल की मासूम से रेप, गेमिंग ज़ोन में पसरा था खून

इंदौर। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन मध्य प्रदेश का इंदौर शहर एक शर्मनाक घटना का गवाह बना है. यहां सबसे बड़े मॉल के गेमिंग जोन में 9 साल की मासूम से रेप का मामला सामने आया है. बच्ची के शोर मचाने पर गेमिंग जोन कर्मचारी की शर्मनाक हरकत का पता चला. इसके बाद आक्रोशित परिजनों और मॉल में मौजूद लोगों ने आरोपी की पिटाई करते हुए उसे पुलिस के हवाले कर दिया.

मामला शहर के जूनी इंदौर इलाके में रहने एक कारोबारी के परिवार से जुड़ा है. कारोबारी की पत्नी अपने 12 साल के बेटे और 9 साल की बेटी के साथ ट्रेजर आईलैंड मॉल में घूमने आई थी. अमूमन मॉल में आने वाली कारोबारी की पत्नी दोनों बच्चों की जिद पर उन्हें गेम जोन में छोड़ दिया और खुद शॉपिंग करने लगी.

दोनों भाई-बहन मास्क और चश्मा लगाकर संगीत के तेज शोर और अंधेरे वाले वर्चुअल गेम जोन के अंदर अलग-अलग खेलने लगे. तभी 9 साल की मासूम की चीख सुनकर हर कोई हैरान लगा. गेमिंग जोन में मौजूद सभी बच्चों और अन्य कर्मचारियों को लगा कि डर की वजह से बच्ची चीख रही होगी.

सभी लोग बच्ची के पास पहुंचे तो हैरान करने वाला खुलासा हुआ. उसके कपड़ों में खून लगा हुआ था और गेम जोन के एक कोने में फर्श पर भी जगह-जगह खून फैल गया था. इसके बाद मौके पर काफी भीड़ जमा हो गई. शोर सुनकर बच्ची की मां भी पहुंची और बेटी की हालत देखकर आपा खो बैठी. उसने इस हैवानियत को अंजाम देने वाले कर्मचारी अर्जुन की जमकर पिटाई कर दी.


बताया जा रहा है कि आरोपी ने मासूम के साथ अश्लील हरकत की और गलत हरकत करने लगा तभी बच्ची ने शोर मचा दिया. उसने ही भारी भीड़ के बीच इशारा करते हुए आरोपी की पहचान की.

घटना की जानकारी मिलने पर तुकोगंज पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया. वहीं, मेडिकल परीक्षण और चश्मदीद के बयानों के आधार पर पुलिस ने आरोपी अर्जुन के खिलाफ पॉस्को एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है.

इंदौर में पिछले एक सप्ताह में तीन मासूमों के साथ छेड़छाड़ व दुष्कर्म जैसे मामले सामने आए है. ऐसे में अब मासूमों की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे है.