PNB घोटाले ने 17 ठिकानों पर ED के छापे, 5100 करोड़ की संपत्ति जब्त

नई दिल्लीः पंजाब नेशनल बैंक में करीब 1.77 अरब डॉलर यानी करीब 11,400 करोड़ रुपए के घोटाले में आरोपी नीरव मोदी के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने छापे मारे हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने 17 परिसरों पर छापेमारे की कार्रवाई करते हुये 5,100 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है।  निदेशालय ने बताया कि सुबह राजधानी दिल्ली, मुंबई, सूरत और कई स्थानों पर छापेमारी की कार्रवाई शुरू की गयी। कुल मिलाकर उसने 17 स्थानों पर छापेमारी की और तलाशी ली जिसमें 5,100 करोड़ रुपये का सोना, हीरे और जवाहरात जब्त किये गये हैं। 11,400 करोड़ रुपए के इस घोटाले में सीबीआई ने 31 जनवरी को एक FIR भी दर्ज की थी। खबरों के मुताबिक नीरव मोदी देश छोड़कर भाग चुका है।

मोदी ने मांगा 6 महीने का समय
ईडी ने नीरव मोदी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग और 280 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। फिलहाल ईडी की टीमें नीरव मोदी के घर, शोरूम और दफ्तरों में सर्च अभियान में लगी हैं और दस्‍तावेज खंगाल रही हैं। सूत्रों के अनुसार इस मामले में जल्द ही कुछ लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है। ईडी भी मामले की तह में जाने के लिए छानबीन शुरू कर चुकी है। खबरों के अनुसार नीरव मोदी ने बैंक को चिट्ठी लिखकर  पैसे चुकाने की बात कही है। उन्‍होंने कहा है कि उनकी कंपनी फायरस्टार डायमंड की कुल कीमत 6,435 करोड़ है और वह उससे बैंक का पैसा 6 महीनों में चुका देंगे।

बैंक के 10 अधिकारी सस्पेंड
गौरतलब है कि पंजाब नेशनल बैंक में करीब 1.77 अरब डॉलर यानी करीब 11,400 करोड़ रुपए का घोटाला सामने आया है। यह मामला मुंबई के एक ब्रांच से जालसाजी के जरिए किए गए अनधिकृत ट्रांजैक्शन से जुड़ा है। घोटाले में पीएनबी के 10 अधिकारियों के नाम के साथ ही अरबपति हीरा व्‍यापारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्‍स के प्रमुख मेहुल चोकसी के नाम भी आए हैं।