हैवान पिता ने कुल्हाड़ी से 2 बच्चों को उतार दिया मौत के घाट

कटनी। खिरहनी फाटक क्षेत्र में आज सुबह दिल दहलाने वाली एक घटना में हैवान बने पिता ने अपने ही दो बच्च्चों का बेहरमी से कत्ल कर दिया।
पिता ने यह कदम क्यों उठाया इसे लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं हैं, अलबत्ता पुलिस ने इसे प्रारंभिक तौर पर आर्थिक तंगी कारण माना है, लेकिन घटना स्थल पर पुलिस को एक कागज मिला जिसमें क्षेत्र के एक सटोरिये तथा दो अन्य लोगों के नाम लिखे हैं जिन पर हत्या के आरोपी पिता ने इनसे परेशान होकर यह कदम उठाना लिखा है।
पुलिस इस पत्र की भी जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार कोतवाली थानांतर्गत खिरहनी फाटक की नरेन्द्र गली में रहने वाले राकेश निषाद उर्फ बब्बा नामक 40 वर्षीय व्यक्ति ने आज सुबह करीब 5 बजे सोते हुए अपने दो बच्चों 15 वर्षीय पुत्री कशिश तथा 11 वर्षीय पुत्र साहिल पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया।
हमले के वक्त राकेश उर्फ बब्बा की पत्नी फूलमती बाई दूसरे कमरे में सो रही थी। आवाज सुन कर फूलमती इस कमरे में पहुंची तो यहां का मंजर खौफनाक था। कमरे में सो रही कशिश और साहिल खून से लथपथ पड़े थे, जबकि उसका पति राकेश हाथ में कुल्हाड़ी लिए इन पर दनादन वार कर रहा था।
Mandihalchal
बेसुध पत्नी चीखी, आसपास पड़ौसियों के पास दौड़ी, इधर हैवान पिता बच्चों को मृत समझ कर भाग गया। मौके पर पहुंचे आस पड़ौस के लोग समीप ही खिरहनी पुलिस चौकी दौड़े। हमले से पुत्री कशिश ने तो मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि पुत्र साहिल की सांस चल रहीं थी जिसे पड़ौस के ही लोग लेकर अस्पताल भागे लेकिन रास्ते में ही मासूम ने भी दम तोड़ दिया।
घटना की जानकारी लगते ही टीआई शैलेष मिश्रा सदलबल मौके पर पहुंचे घटना स्थल का मुआयना किया।
पत्नी तथा पड़ोसियों के बयान लेने पर प्रथम दृष्टया यह मामला आर्थिक तंगी का नजर आया लेकिन पुलिस को यहां एक कागजनुमा पत्र मिला जिसमें तीन लोगों के नाम लिखे हैं तथा इनसे परेशान हो कर परिवार सहित आत्महत्या का जिक्र है।
क्षेत्रीय लोगों ने यह भी बताया कि राकेश मानसिक रूप से परेशान था। और तो और वह पिछले दो दिनों से घर से बाहर भी नहीं निकला था। पत्नी के अनुसार राकेश निस्तार भी घर में ही करता था, तथा मन ही मन बातें करता रहता था।
यही नहीं वह कुछ कुछ पन्नों में लिखता रहता था। इससे एक बात तो तय है कि राकेश की दिमागी हालत ठीक नहीं थी, लेकिन उसके पत्र और इसमें लगे आरोपों की पुलिस को गंभीरता से जांच करनी चाहिए। टीआई शैलेष मिश्रा ने बताया कि पुलिस हर बिन्दुओं पर बारीकी से जांच कर रही है। पत्र में नामों के उल्लेख है इस पर भी जांच की जा रही है। आरोपी को पकड़ने पुलिस की एक टीम गठित की गई है।