सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचीं विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे, ड्राइवर और 3 पुलिस कर्मियों की मौत

बालाघाट। मध्यप्रदेश विधानसभा की उपाध्यक्ष हिना कावरे का काफिला हादसे की शिकार हो गया. उनकी सुरक्षा में लगे फॉलो गार्ड वाहन को एक ट्रॉली ने टक्कर मार दी. हादसे में चार लोगों की मौत हो गई जबकि कावरे बाल-बाल बची हैं.मिली जानकारी के मुताबिक, घटना रविवार देर रात की है. हादसे में मरने वालों में एक सब इंस्पेक्टर, एक हेड कॉस्टेबल, एक कांस्टेबल सहित एक प्राइवेट ड्राइवर भी शामिल हैं.बालाघाट में कुछ निजी कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे के अपने ग्रह ग्राम किरनापुर लौट रही थीं. इसी दौरान बालाघाट से 16 किमी दूर सलेटका के समीप यह हादसा हो गया.मृतकों के नाम..

 उपनिरीक्षक हर्षवर्धन सोलंकी, पिता मान सिंह सोलंकी (उम्र 30 साल) निवासी कालापीपल जिला शाजापुर हाल थाना लांजी बालाघाट.
प्रधान आरक्षक 812 हामिद शेख, पिता मोहम्मद हबीब शेख (उम्र 50 साल) निवासी वार्ड नंबर 13 गंगा नगर बालाघाट.
(प्राइवेट ड्राइवर) सचिन, पिता बृजलाल सहारे (उम्र 22 वर्ष) नेवारा थाना किरनापुर.
आरक्षक 1115 राहुल कोलारे, पिता लेखराम कोलारे ग्राम चरगांव ज़िला 

हादसे में एक सब इंस्पेक्टर और एक जवान की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना रविवार की रात तकरीबन 12:30 बजे की है। घटना के समय हिना कांवरे बालाघाट जिला मुख्यालय से अपने घर लांजी लौट रही थीं। हादसे के पीछे नक्सली साजिश की आशंका भी जताई जा रही है।