इंदौर की कोरोना पॉजिटिव नर्स ने छिपाई जानकारी, डॉक्टर-नर्स सहित 50 क्वारंटाइन

Coronavirus in Gwalior : जयारोग्य अस्पताल की स्टाफ नर्स के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद अस्पताल प्रबंधन सवालों के घेरे में आ गया है। प्रबंधन का तर्क है कि नर्स ने इंदौर से आने की जानकारी छिपाई थी। वहीं खबर है कि स्टाफ नर्स जब ज्वाइनिंग देने पहुंचीं तो मेट्रन मौजूद ही नहीं थी। प्रभारी मेट्रन ने ज्वाइनिंग लेकर ड्यूटी भी लगा दी थी।

उधर स्टाफ नर्स एवं प्रबंधन की लापरवाही के कारण डॉक्टर, नर्स सहित 50 लोग क्वारंटाइन में पहुंचने से अस्पताल की व्यवस्थाएं चरमरा गई हैं। ट्रामा सेंटर को तो तीन दिन के लिए बंद ही कर दिया गया है। दिलचस्प बात ये है कि प्रबंधन ने अब तक नर्स या मेट्रन के खिलाफ कोई कार्रवाई तक नहीं की है।

जयारोग्य अस्पताल में पदस्थ स्टाफ नर्स 4 अप्रैल को लॉकडाउन के बीच ग्वालियर आई थी। उसने 5 अप्रैल को जेएएच में मेट्रन कार्यालय में पहुंचकर ज्वाइनिंग भी दर्ज करा दी थी। 5 एवं 6 अप्रैल को स्टाफ नर्स ने ट्रामा सेंटर में ड्यूटी भी कर ली। अब जब 7 अप्रैल को स्टाफ नर्स की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो अस्पताल प्रबंधन के होश उड़ गए। मेट्रन से लेकर प्रबंधक तक अपने हाथ बचाने में लगा हुआ है।

Leave a Reply