पाक में पनप रहे आतंकवाद से डरा चीन, अपने नागरिकों को किया अलर्ट

इंटरनेशनल डेस्क: आंतकवाद को लेकर अकसर पाकिस्तान की पीठ थपथपाने वाले चीन को अब अपने नागरिकों की ही चिंता सताने लगी है। यही वजह है कि इस्लामाबाद मे चीनी दूतावास ने पाक में रहने वाले चीनी नागरिकों व संबंधित संगठनों को उन पर आतंकवादी हमले किए जाने की चेतावनी दी है। इससे पहले चीन ने पाकिस्तान सरकार से अपने नागरिकों की मौजूदगी वाले स्थानों की सुरक्षा बढ़ाने के लिए कहा था।

आतंकवादी चीन नागरिकों पर कर सकते हैं हमले
पाकिस्तान स्थित चीनी दूतावास ने अपनी वेबसाइट पर एक बयान में कहा कि यह समझा जा रहा है कि पाकिस्तान में रह रहे चाइनीज व्यक्तियों और संगठनों पर आतंकवादी सिलसिलेवार हमले कर सकते हैं। उन्होंने अपने नागरिकों और संगठनों को सुरक्षा सतर्कता बढ़ाने, आंतरिक एहतियात को मजबूत करने बाहर कम जाने और भीड़भाड़ वाले स्थानों से दूर रहने को कहा है। चीनी नागरिकों को पाकिस्तान पुलिस और सेना के साथ सहयोग करने के अलावा कहा गया कि आपात स्थिति में दूतावास को अलर्ट करें। हालांकि हमलों की आशंका को लेकर और डिटेल नहीं दी गई है। इस मुद्दे पर अभी पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

चीन ने पाक की फंडिंग पर लगा दी थी रोक
बता दें कि तीन लाख करोड़ की लागत वाले वन बेल्ट-वन रोड प्रोजेक्ट व कुछ अन्य परियोजनाओं पर इन दिनों हजारों चीनी नागरिक पाकिस्तान में कार्य कर रहे हैं। चीन बेल्ट-रोड परियोजना के जरिये सड़क मार्ग से पाकिस्तान होकर अरब देशों और यूरोप तक पहुंचना चाहता है। लेकिन उसे अपने नागरिकों और निवेश की चिंता भी सता रही है। चीन को अंदेशा है कि उसके निवेश वाली परियोजनाओं, कार्यस्थलों और नागरिकों पर आंतकी हमले हो सकते हैं। गौरतलअब है कि कि कुछ दिनों पहले ही चीन ने भ्रष्टाचार का आरोप सामने आने के बाद चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के लिए दी जा रही फंडिंग पर रोक लगा दी थी। पाकिस्तानी मीडिया में यह खबर आने के बाद अब चीन ने वहां रहने वाले अपने नागरिकों पर आतंकी हमले की आशंका जताई है।