Mumbai Bridge Collapse: सीएसटी के पास फुटओवर ब्रिज गिरने से हादसा, 5 लोगों की मौत, 34 घायल

मुंबई में गुरुवार शाम छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल स्टेशन के पास एक बड़ा हादसा हुआ है। सीएसटी स्टेशन पर एक फुट ओवर ब्रिज गिरने के कारण 5 लोगों की मौत हुई है। वहीं इस घटना में 34 से अधिक लोग घायल हुए हैं, जिन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इन घायलों में 4-5 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है और इन्हें गहन चिकित्सकीय निगरानी में रखा गया है। 

बताया जा रहा है कि रेलवे स्टेशन को जोड़नेवाला ये फुटओवर ब्रिज है। बचाव व राहत कार्य के लिए NDRF की टीम पहुंच गई है। राहत व बचाव कार्य जारी है। 

वहीं सीएसटी फुटओवर ब्रिज हादसे के बारे में रेलवे ने कहा है कि यह ब्रिज बीएमसी का है। इस हादसे के बाद रेलवे के द्वारा हर संभव मदद की कोशिश की जा रही है।

महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मुंबई में टाइम्स ऑफ इंडिया बिल्डिंग के पास हुए फुटओवर ब्रिज के एक हिस्सा गिरने की खबर से बहुत दुखी हूं। बीएमसी और स्थानीय प्रशासन को हर संभव सहायता के लिए निर्देश दिया है।

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि ब्रिज का एक हिस्सा टूटकर गिर गया है। रेलवे और बीएमसी इसकी जांच करेंगे। ब्रिज ठीक हालत में नहीं था, इसमें सिर्फ कुछ मरम्मत की जरूरत थी। काम चल रहा था, ऐसे में लोगों को इस रास्ते से आने-जाने की छूट क्यों दी गई इसकी भी जांच होगी।

छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल रेलवे स्टेशन के पास फुटओवर ब्रिज पर लोग जा रहे थे तभी यह हादसा हुआ। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल हादसा किन वजहों से हुआ इसकी जानकारी अभी तक नहीं मिल पायी है।

गौरतलब है कि इससे पहले जुलाई 2018 में मुंबई के अंधेरी पश्चिम में सड़क ओवर ब्रिज का एक हिस्सा गिर गया था। इस हादसे में पांच लोग घायल हो गए थे। हादसा सुबह- सुबह हुई थी, नहीं तो हादसा बड़ा भी हो सकता था।

सितंबर 2017 में मुंबई के एलफिंस्टन ब्रिज पर भगदड़ मच गई थी। इस हादसे में करीब 23 लोगों की मौत हो गई थी। हालांकि इस ब्रिज को बाद में रेलवे और सेना ने साथ मिलकर युद्ध स्तर पर बनाया। हालांकि इस दौरान भी ओवर ब्रिज सवालों के घेरे में रहा था। इस बार भी ओवर ब्रिज की हालत पर सवाल उठाए जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि अगर ब्रिज इतना ही कमजोर था कि गिरने की नौबत आ सकती थी, तो इसे लोगों के लिए क्यों चालू रखा था।

Leave a Reply