गुजरात निकाय चुनाव: सर्वाधिक सीटें जीतने के बावजूद BJP को झटका

वेब डेस्क: गुजरात में 74 नगरपालिकाओं के लिए हुए चुनाव में भाजपा ने बाजी तो मार ली है लेकिन इसके बावजूद भी पार्टी को नुकसान पहुंचा है। पिछली बार पार्टी 75 नगरपालिका में से 59 में सत्ता पर थी लेकिन इस बार उसे मात्र 43 नगरपालिका से संतोष करना पड़ रहा है।

कांग्रेस ने 16 नगरपालिकाओं में की जीत हासिल 
वहीं दूसरी ओर मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने पिछली बार के लगभग एक दर्जन की तुलना में कहीं अधिक 16 नगरपालिकाओं में जीत हासिल की हैं। राज्य चुनाव आयोग के आयुक्त वरेश सिन्हा ने बताया कि बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने एक एक नगरपालिका में जीत हासिल की है जबकि निर्दलीय ने चार में। छह में मिश्रित परिणाम हासिल हुआ है। कुल 75 नगरपालिकाओं के लिए चुनाव होना था पर इनमें से एक जाफराबाद में भाजपा की निर्विरोध जीत होने के कारण 74 पर ही चुनाव हुआ था।

मोदी के गृहनगर में भाजपा को मिली जीत
सिन्हा ने बताया कि कुल 2060 सीटों पर 17 फरवरी को मतदान हुआ था। इनमें से 1167 भाजपा ने 630 कांग्रेस, 15 बसपा, 28 राकांपा, 18 अन्य छोटे दलों और 202 निर्दलियों ने जीती हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृहनगर महेसाणा जिले के वडनगर की नगरपालिका में भाजपा ने एक बार फिर जीत हासिल की है। इसने सात वार्ड की कुल 28 में से 27 सीटें जीती हैं। कांग्रेस को मात्र एक सीट ही हासिल हुई। उधर छोटाउदेपुर नगरपालिका में कांग्रेस के प्रत्याशी रहे पूर्व केंद्रीय रेल राज्य मंत्री नारण राठवा के पुत्र संग्रामसिंह राठवा और पत्नी मंजुलाबेन राठवा को हार का सामना करना पड़ा।