PM मोदी के कहने पर पलानीसामी से मिलाया हाथ : पनीरसेल्वम

नेशनल डेस्क: तमिलनाडु के उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने आज अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों के विलय को लेकर बड़ा खुलासा किया है। पनीरसेल्वम के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से ही बिखरी हुई पार्टी एकजुट हो पाई। उन्होंने बताया कि पीएम के कहने पर ही उन्होंने पलानीसामी गुट से हाथ मिलाया था।

पीएम ने दी हाथ मिलाने की सलाह
चेन्नई के थेनी में पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में अन्नाद्रमुक संयोजक ने कहा कि पिछले साल नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी के साथ शिष्टाचार मुलाकात के दौरान यह मुद्दा उठा था। पीएम ने उन्हे कहा था कि पार्टी को बचाने के लिए एआईएडीएमके के दोनों गुटों को एक होना होगा। पनीरसेल्वम ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि उन्हें मंत्री पद नहीं चाहिए और वह पार्टी में पद से ही संतुष्ट हो सकते हैं लेकिन पीएम चाहते थे कि वह पलानीस्वामी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में शामिल हों।

अम्मा के लिए सहे ​कष्ट
अन्नाद्रमुक संयोजक ने बताया कि सीएम पद पर आने के बाद उनका काफी शोषण किया गया। यह शोषण इस हद तक था कि उनकी जगह कोई और होता ताे आत्महत्या कर लेता। लेकिन उन्होंने अम्मा (जयललिता) के लिए सब कुछ सहन किया। बता दें कि पन्नीरसेल्वम जयललिता की करीबी मनी गईं शशिकला को सीएम बनाए जाने के विरोध में थे। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि शशिकला के परिवार ने 2016 के चुनाव में उनको हराने का पूरा प्रयास किया था।