कंगारू मदर केयर बचाएगी समय पूर्व जन्मे बच्चों की जान

श्योपुर। बाल गहन चिकित्सा इकाई (एसएनसीयू) का विकल्प बनी कंगारू मदर केयर पद्घति से हर माता को अवगत कराया जाएगा। यह पद्घति समय से पूर्व जन्मे (प्री-मेच्योर डिलीवरी) बच्चे की जान बचाने में सहायक है। स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग द्वारा 18 से 27 जनवरी तक चलाए जाने वाले दस्तक अभियान के दौरान इस पद्घति की जानकारी महिलाओं की दी जाएगी।

कंगारू मदर केयर में शिशु को शरीर की गर्मी देकर उसका तापमान नियंत्रित रखा जा सकता है। समय पूर्व जन्मे बच्चों को सामान्य तापमान देने के लिए एसएनसीयू में 14 दिन तक भर्ती रखा जाता है। मशीनों द्वारा दी जाने वाली इस थेरैपी को मां खुद देकर बच्चे की जान बचा सकती है। बच्चे को किस तरह हर समय अपनी छाती से लगाया जाए इसकी तकनीक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और आशा कार्यकर्ताओं को दी जाएगी, जो बाद में दस्तक अभियान के तहत घर-घर पहुंचकर माताओं को देगी।