फूलों की रखवाली करते करते बन गया हथियारों का तस्कर

ग्वालियर। अवैध हथियारों को बरामद करने के लिए चलाई जा रही मुहिम में क्राइम ब्रांच को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने इटावा से बैग में कट्टे लेकर आए 18 साल के रवि शर्मा को बस स्टैंड के पास से पकड़ने का दावा किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपित के बैग से 33 देसी कट्टे मिले हैं। आरोपित ने कबूल किया है कि इन कट्टों को शहर के अलावा शिवपुरी व दतिया के अपराधियों को बेचने के लिए लाया था। पुलिस को आशंका है कि चुनाव से पहले तस्करों द्वारा अंचल में भारी मात्रा में अवैध हथियार जमा किए जा रहे हैं। क्योंकि चुनाव में दोनों अंचलों में अवैध हथियारों की डिमांड बढ़ जाती है और मुंह मांगे दाम मिलते हैं।

एसपी नवनीत भसीन ने बताया कि जिले में अवैध हथियारों के खिलाफ मुहिम चलाई जा रही है। हथियारों की तस्करी से लोग पुलिस के रडार पर है। सोमवार को सूचना मिली कि एक युवक इटावा से अवैध हथियार लेकर आ रहा है। इसके हाथ में काले रंग का बैग है। यह युवक बस स्टैंड पर उतरेगा। सूचना एएसपी क्राइम पंकज पांडे व डीएसपी क्राइम रत्नेश तोमर के निर्देशन पर क्राइम ब्रांच थाने के टीआई दिलीप यादव के नेतृत्व में एसआई गंभीर सिंह, प्रधान आरक्षक राजेंद्र सिंह,आरक्षक जितेंद्र, लोकेंद्र कुशवाह, विकास, अंजनी, शिवराम, विशाल यादव, योगेंद्र तोमर, शिखा वर्मा, सक्षम दुबे की टीम गठित कर हथियार तस्कर को पकड़ने का टास्क दिया गया था। आईजी अंशुमान यादव ने टीम को 25 हजार रुपए का नकद इनाम देने की घोषणा की है।

बस स्टैंड से पकड़ा –

क्राइम ब्रांच की टीम बस स्टैंड को घेरकर खड़ी की गई। काले रंग का बैग लिए एक युवक पुलिस को बस स्टैंड के सुलभ कॉम्पलेक्स के पास नजर आया। पुलिस ने घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया। युवक का बैग खोलकर देखने पर उसमें कपड़ों की जगह कट्टे भरे हुए थे। पुलिस युवक को पकड़कर क्राइम ब्रांच थाने ले आई। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद आरोपित ने अपना नाम रवि (18) पुत्र संतोष शर्मा निवासी ग्राम अहरौनी थाना गोदन जिला दतिया बताया। पुलिस ने बताया कि आरोपित के बैग से कुल 33 कट्टे व 5 राउंड मिले।

दोस्त की पार्टनरी में गाड़ी खरीदी, उसके साथ कट्टों की तस्करी करने लगा –

रवि पहले माली का काम करता था। उसने दतिया के एक दोस्त के साथ पाटर्नरशिप में फोरव्हीलर किराये पर चलाने के लिए गाड़ी खरीदी। पाटर्नर पहले से तस्करी करता था। उसने लालच देकर उसे भी हथियारों की तस्करी करने के लिए अपने जाल में फंसा लिया। रवि पहले भी हथियारों का खेप ला चुका है। पुलिस अब उसके दोस्त की तलाश कर रही है। रवि ने कबूल किया प्रति कट्टा एक से डेढ़ हजार रुपए मुनाफे के आसानी से मिल जाते हैं। उसके बाद ग्राहक फंसने के ऊपर निर्भर करता है। कट्टों की सप्लाई दतिया व शिवपुरी भी करता है। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है।