कांग्रेस प्रवक्ता बनने के लिए करणी सेना भी कतार में, दिया इंटरव्यू

भोपाल। विवादों में घिरी फिल्म ‘पद्मावत’ का विरोध करने वाली करणी सेना अब मप्र कांग्रेस का चेहरा बनने का प्रयास कर रही है। करणी सेना के प्रदेश प्रभारी रघुनंदन सिंह परमार ने शुक्रवार को मप्र कांग्रेस के राज्यस्तरीय प्रतिभा खोज अभियान में प्रवक्ता बनने के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से आई टीम के सामने साक्षात्कार दिया है।

अभियान के दूसरे दिन सोशल मीडिया से जुड़ने के लिए करीब 250 युवाओं ने साक्षात्कार दिए, जिनमें कुछ प्रवक्ता बनने की इच्छा रखने वाले आवेदक भी शामिल थे। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में शुक्रवार को सोशल मीडिया के लिए साक्षात्कार का सिलसिला सुबह साढ़े दस बजे से शुरू हो गया था। कांग्रेस विचारधारा के इच्छुक आवेदकों के तत्काल रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था भी की गई। शुक्रवार को पहुंचे आवेदकों में फेसबुक, ट्वीटर एकाउंट पर चैटिंग करने वाले व्यक्तियों के अलावा कुछ ब्लॉगर और इंस्टाग्राम से जुड़े लोग भी पहुंचे।

ग्राफिक्स डिजाइनर ने भी कांग्रेस सोशल मीडिया टीम से जुड़ने में रुचि दिखाई है। प्रतिभा खोज अभियान से जुड़े मप्र कांग्रेस के सचिव मृणाल पंत ने बताया कि सोशल मीडिया के अलावा शुक्रवार को भी प्रवक्ता बनने में रुचि रखने वालों के साक्षात्कार हुए हैं। साक्षात्कार के दौरान सोशल मीडिया टीम से जुड़ने के इच्छुक लोगों के फेसबुक-ट्वीटर एकाउंट व इंस्टाग्राम की पोस्टों को भी देखा गया। ब्लॉगरों के ब्लॉग की पोस्ट से भी उनके विचारों को जानने की कोशिश की गई।

प्रवक्ता के आवेदक भी पहुंचे प्रतिभा खोज अभियान के दूसरे दिन प्रवक्ता बनने के इच्छुक कुछ आवेदकों से भी एआईसीसी की टीम ने साक्षात्कार लिया। इसमें फिल्म ‘पद्मावत” का विरोध करने वाली करणी सेना के प्रदेश प्रभारी रघुनंदन सिंह परमार भी शामिल हैं। परमार ने कहा कि कांग्रेस प्रवक्ता बनने के लिए साक्षात्कार दिया है, लेकिन वे साक्षात्कार में पूछे गए सवालों पर टिप्पणी करने से बचे। उन्होंने कहा मैं इस संबंध में कुछ नहीं बता सकता