कल थे ये खिलाड़ी हीरो आज किसी ने नाम तक नहीं लिया

खेल डेस्क। हर साल आईपीएल में नए बदलाव देखने को मिलते हैं लेकिन सीजन-11 आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा बदलावों के लिए ही जाना जाएगा। पहला बदलाव लगभग सभी प्लेयरों की दोबारा ऑक्शन करवाना ही है। दूसरा- 2 पुरानी टीमों सीएसके और राजस्थान रॉयल्स की वापसी के बाद सारी टीमों से दिग्गज प्लेयरों को फेरबदल होना है। तीसारा सबसे महत्वपूर्ण स्टार खिलाडिय़ों के लिए बोली न लगना भी है।

आईपीएल ऑक्शन 2 दिन चलनी है लेकिन पहले दिन की बोली के दौरान क्रिस गेल, लसिंथ मलिंगा, मिशेल जॉनसन जैसे दिग्गज प्लेयर की नीलामी में किसी भी फ्रैंचाइजी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई या कहा जाए किसी ने मुंह तक नहीं लगाया। सबसे ज्यादा चौकाया क्रिस गेल ने। आईपीएल में सबसे ज्यादा 265 छक्के उड़ाने वाले गेल की बोली ही नहीं लगी। हालांकि आरसीबी की तरफ से उन्हें रिटेन न करने से भी क्रिकेट फैंस चौंके थे लेकिन ऑक्शन द्वारा उनकी बोली ही नहीं लगेगी। इस बात की किसी को उम्मीद नहीं थी। एक नाम लसिंथ मलिंगा भी सामने आया। आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट निकालने वाले श्रीलंका के दिग्गज तेज गेंदबाज लसिंथ मलिंगा को भी पहले किसी भी टीम ने नहीं खरीदा।

क्रिस गेल 
Mandihalchal
वैस्टइंडीज के इस धाकड़ बल्लेबाज ने 2009 में आईपीएल से शुरुआत की थी। हालांकि शुरुआती सीजन में वह महज 7 मैच खेलकर 171 रन ही बना पाए। लेकिन अपने धाकड़ स्टाइल के कारण गेल धीरे-धीरे सितारा खिलाड़ी बनते गए। 2010 से लेकर 2013 के सीजन इस कद्र गुजरे कि गेल की स्ट्राइक रेट 150 से नीचे नहीं आई। 2012 में तो उन्होंने 59 तो 2013 में 51 छक्के उड़ाए। गेल के नाम पर आईपीएल के 101 मैच में 3626 रन दर्ज हैं। उनकी औसत 40 की तो सर्वोच्च स्कोर 175 नॉट आऊट है। गेल आईपीएल में अब तक 5 शतक के अलावा 21 अर्धशतक लगा चुके हैं। गेल अक्सर ऑल राऊंडर की भूमिका निभाते हुए भी दिखते हैं। आईपीएल में भी वह 18 विकेट ले चुके हैं।

लसिंथ मलिंगा 
Mandihalchal
आईपीएल के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक लसिंथ मलिंगा अब तक मुंबई इंडियंस की तरफ से ही खेलते आए हैं। इस बार मुंबई इंडियंस द्वारा उन्हें रिटेन नहीं करने से क्रिकेट फैंस में उत्सुकता थी कि वह कौन-सी नई टीम में जाते हैं। लेकिन उम्मीद के बिल्कुल ऊलट किसी भी आईपीएल फ्रैंचाइजी ने उनपर भरोसा नहीं जताया। मलिंगा आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा (154) विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। 2009 में उन्होंने मुंंबई इंडियंस की तरफ से धमाकेदार शुरुआत करते हुए 13 मैच में 18 विकेट निकाली थी। उनकी औसत 17 की रही थी जोकि टी-20 फार्मेट के चलते सबसे अच्छी थी। इसके बाद बाद 2011 में उन्होंने कहर बरपाते हुए 16 मच में 28 विकेट झटक लिए थे। ऐसा कोई सीज नहीं गुजरा जिसमें मलिंगा ने 15 से कम विकेट ली हों।

मिशेल जॉनसन
Mandihalchal
दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक ऑस्ट्रेलिया के मिशेल जॉनसन को भी किसी भी फ्रैंचाइजी ने नहीं खरीदा। 2013 में सबसे पहले मुंबई इंडियंस ने इस दिग्गज स्टार को खरीदा था। जॉनसन ने भी अपने चुनाव को सही साबित करते हुए 24 विकेट झटके थे। यह जॉनसन का ही प्रदर्शन था जिसने मुंबई इंडियंस को ट्रॉफी उठाने में मदद की। 2014 में मिशेल जॉनसन को किंग्स पंजाब ने खरीद लिया। तब से वह पंजाब की तरफ से ही प्रदर्शन कर रहे थे। जॉनसन अब तक 48 आईपीएल मैच खेलकर 59 विकेट हासिल कर चुके हैं। हालांकि 2013 में 23, 2014 में 17, 2015 में 9, 2016 में 2 तो 2017 में महज 7 विकेट लेने वाले जॉनसन का प्रदर्शन गिरा है। लेकिन अपनी तेज गेंदबाजी के चलते वह शुरू से ही आईपीएल फेवरेट रहे हैं।

जो रूट
Mandihalchal
इंगलैंड के कप्तान जो रूट पर भी किसी भी फ्रैंचाइजी ने भरोसा नहीं दिखाया। रूट इस समय दुनिया के टॉप प्लेयरों में से एक है। विराट कोहली, स्टीवन स्मिथ, केन विलियिम्स जैसै दिग्गज प्लेयरों की कैटेगरी में आते रूट अभी तक आईपीएल में नहीं खेले हैं। पहली बार उनका आईपीएल में नाम आया था लेकिन वह नहीं बिक पाए। अभी ऑक्शन के लिए एक और मौका है अगर जो रूट किसी टीम द्वारा चुने जाते हैं तो वह ऐसे पहले बल्लेबाज बन जाएंगे जो इंगलैंड के टेस्ट कप्तान होते हुए आईपीएल में खेले। हालांकि बीच में खबरें भी आई थीं कि रूट ने अपना नाम वापस ले लिया है। लेकिन जब ऑक्शन प्रक्रिया में उनका नाम आ गया तो साफ हो गया कि रूट आईपीएल खेलना चाहते थे। लेकिन आईपीएल फ्रैंचाइजी ने उनपर विश्वास नहीं दिखाया।

मुरली विजय 
Mandihalchal
ऑल टाइम फेवरेट ओपनर मुरली विजय चाहे टीम इंडिया की एकदिवसीय एकादश में जगह नहीं बना पाए लेकिन आईपीएल में वह सितारा ओपनर्स में से एक जाने जाते हैं। अब तक 100 मैच खेल चुके मुरली विजय 2511 रन बना चुके हैं। इसमें 2 शतक और 13 अर्धशतक भी शामिल हैं। 123 की स्ट्राइक रेट से खेलने वाले मुरली विजय 89 छक्के भी लगा चुके हैं। 33 साल के मुरली भारत की ओर से 55 टेस्ट खेल चुके हैं। इसमें 40 की औसत से वह 3769 रन बना चुके हैं। 11 शतक और 15 अर्धशतक उनके नाम है। लेकिन वनडे और टी-20 में वह भारत के लिए कम ही मैच खेले हैं। वैसे भी बढ़ती उम्र के कारण उनमें किसी भी फ्रैंचाइजी द्वारा दिलचस्पी न लेना, हैरान नहीं करता।

मार्टिन गुप्टिल
Mandihalchal
न्यूजीलैंड के इस धाकड़ बल्लेबाज ने 2016 से आईपीएल सीजन की शुरुआत की थी। तूफानी शुरुआत देने के लिए जाने जाते गुप्टिल अब तक 10 मैच में 189 रन बना चुके हैं। उनकी स्ट्राइक रेट 132 से ऊपर रही है। बता दें कि गुप्टिल वनडे क्रिकेट में 237 रन बनाकर चर्चा में आए थे। मौजूदा समय में वह जिस फॉर्म में चल रहे हैं। उस हिसाब से उनकी बोली न लगना हैरान कर देने वाला फैसला रहा।

ईशांत शर्मा 
Mandihalchal
आईपीएल ऑक्शन में टीम इंडिया से लगातार अंदर-बाहर जा रहे ईशांत शर्मा भी उन प्लेयरों में शामिल रहे जिन्हें कोई खरीदार नहीं मिला। साऊथ अफ्रीका दौरे से पहले अपने औसतन प्रदर्शन के कारण दिग्गजों की निंदा का सामना करने वाले ईशांत कभी आईपीएल के स्टार प्लेयर थे। खास तौर पर शुरुआती सीजन में उन्होंने अपनी गेंदबाजी का लोहा मनवाया था। लेकिन 2014 के बाद से उनके प्रदर्शन में बढ़ी गिरावट देखने को मिली। 2014 में वह 3, 2015 में 1, 2016 में 3 तो 2017 आईपीएल सीजन में वह कोई भी विकेट नहीं निकाल पाए थे। क्योंकि वह भारतीय पिचों पर अच्छी गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं ऐसे में उनका न बिकना कई तरह के सवाल खड़े कर गया है।