SA को 194 पर सिमेट भारत ने ली 42 रन की बढ़त,

नई दिल्ली : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वांड्र्स में चल रहे तीसरे टेस्ट के दौरान भारतीय तेज गेंदबाजों ने दूसरे दिन दमदार गेंदबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका टीम को महज 194 रन पर सिमेट दिया। इस तरह दक्षिण अफ्रीका केवल 7 रन की ही लीड ले पाया। इसके बाद भारतीय टीम जब बैटिंग करने उतरी तो ओपनिंग में बदलाव देखने को मिला। मुरली विजय के साथ लोकेश राहुल की बजाय विकेटकीपर पार्थिव पटेल आए। पटेल ने आते ही कुछ जोरदार शॉट लगाए। लेकिन 16 रन बनाते ही वह फिलेंडर की गेंद पर मार्कराम की ओर से लपके गए। पार्थिव ने 16 रन की अपनी पारी में 15 गेंदें खेलीं और 3 चौके लगाए। वहीं दूसरी ओर मुरली और राहुल ने सधी हुई पारी खेलनी जारी रखी। दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक भारत ने 49/1 रन बना लिए थे। उसके पास 42 की लीड है। मुरली विजय 13 तो लोकेश राहुल 16 रन बनाकर खेल रहे हैं।

बुमराह ने निकाली 5 विकेट

इससे पहले भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 18.5 ओवर में 54 रन पर पांच विकेट और भुवनेश्वर कुमार ने 19 ओवर में 44 रन पर तीन विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका को बड़ी बढ़त हासिल करने से रोक दिया। अपने करियर का तीसरा टेस्ट खेल रहे बुमराह ने 66वें ओवर में तीन गेंदों के अंदर दो विकेट निकालकर दक्षिण अफ्रीका को थाम दिया।

रबादा और अमला ने दक्षिण अफ्रीका को संभाला

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से रबादा 30 तो हाशिम अमला ने 61 रन बनाए।  रबादा ने एक छोर पर टिकने का जज्बा दिखाते हुए 84 गेंदों में 6 चौके लगाकर 30 रन जोड़े। उन्होंने अमला के साथ तीसरे विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी कर भारतीय गेंदबाजों को परेशान किया और स्कोर को तीन विकेट पर 80 रन तक ले गए। रबादा को इशांत शर्मा ने अजिंक्या रहाणे के हाथों कैच कराया। अंत में वैरेन फिलेंडर ने भी महत्वपूर्ण 35 रन बनाए जिसकी बदौलत दक्षिण अफ्रीका टीम 194 रन तक पहुंच पाई।

डीविलियर्स और कप्तान प्लेसिस हो गए फेल

वहीं, पहले दिन 6 रन से एक विकेट गंवाने वाली दक्षिण अप्रीका के लिए दूसरे दिन की शुरुआत अच्छी नहीं रही। शुरुआती लम्हों में ही इलगर को महज 4 रन पर भुवनेश्वर को पार्थिव पटेल के हाथों कैच करा चलता किया। इसके बाद डीविलियर्स 5, कप्तान फॉफ डू प्लेसिस 8, कुक 8, एंडिल 9, नगिडी 0 पर आऊट हो गए। मोर्कोल 9 रन बनाकर नॉट आऊट रहे। भारत की तरफ से भुवनेश्वर ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 19 ओवर में 9 मेडल फेंकते हुए 3 विकेट झटके। वहीं ईशांत शर्मा ने भी 14 ओवर में 33 रन देकर 1 विकेट झटका। शमी भी 12 ओवर में 46 रन देकर एक विकेट निकालने में सफल रहे।