UIDAI ने लगाई भारती एयरटेल बैंक ग्राहकों के ई-केवाईसी सत्यापन पर रोक

नई दिल्लीः अभी तक अपनी सबसे मजबूत कार्रवाई में, यूआईडीएआई ने अस्थायी रूप से भारती एयरटेल और एयरटेल पेमेंट बैंक को ईकेवाईसी प्रक्रिया के साथ-साथ भुगतान बैंक ग्राहकों के ई-केवाईसी का उपयोग करके आधार-आधारित सिम सत्यापन करने से रोक दिया है। गौरतलब है कि एयरटेल अब अपने 12 अंकों वाले बॉयोमेट्रिक राष्ट्रीय आईडी आधार के साथ अंतरिम में, अपने ग्राहकों के ‘इलेक्ट्रॉनिक-सत्यापन’ या मोबाइल सिम को सक्षम नहीं कर पाएगा।

एयरटेल के प्रवक्ता ने बताया, “हम पुष्टि कर सकते हैं कि यूआईडीएआई से आधार लिंक्ड ई-केवाईसी सेवाओं के अस्थायी निलंबन के बारे में हम अंतरिम आदेश प्राप्त कर चुके हैं। गौरलतब है कि कुछ समय पहले यूआईडीएआई के ध्यान में लाया गया है कि आधार ई-केवाईसी का उपयोग करते हुए मोबाइल सत्यापन के समय, एयरटेल के रिटेलर्स भी उपयोगकर्ता की सूचित सहमति के बिना, एयरटेल पेमेंट बैंक खाते खोल रहे थे। जब यूआईडीएआई ने एयरटेल मोबाइल ऐप की समीक्षा की, तो यह पाया गया कि जब ऐप खोला गया है, स्वागत संदेश के साथ एक प्री-ट्यटिड सहमति बॉक्स क्षणभर स्क्रीन पर दिखाया जाता है जिसमें कहा गया है कि “मौजूदा एयरटेल मोबाइल केवाईसी का उपयोग करके अपने एयरटेल भुगतान बैंक वॉलेट को अपग्रेड करें या बनाएं “।